आज रवाना होगा सबसे लंबे जलमार्ग पर क्रूज, PM मोदी करेंगे 1200 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 जनवरी को (क्रूज) वर्चुअल कार्यक्रम के जरिये काशी के साथ बिहार और पश्चिम बंगाल की 1200 करोड़ रुपये की 10 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे सबसे लंबे जलमार्ग पर वाराणसी से के लिए गंगा विलास क्रूज और मालवाहक जलयान को हरी झंडी दिखाएंगे।

क्रूज की एक तस्वीर
क्रूज की एक तस्वीर

इसके साथ गंगा पार रेती बलिया में बनी चार फ्लोटिंग जेटी पर बसी टेंट सिटी और गाजीपुर व गंगा विलास क्रूज जिसे कल डिब्रूगढ़ के लिए किया जाएगा रवाना।

PM मोदी बिहार के गाजीपुर के सैदपुर, बीचकपुर, समस्तीपुर जिले के हसनपुर में केंद्र का भी लोकार्पण करेंगे। पीएम मंत्री सर्वानंद सोनोवाल वाराणसी जुड़े रहेंगे। इसमें करीब एक हजार शहर के की भी आधारशिला रखेंगे। में चार फ्लोटिंग कम्यूनिटी जेटी आधारशिला रखेंगे वे पश्चिम मरम्मत सुविधा और एलिवेटेड वर्चुअल कार्यक्रम के समापन के रहा है। कार्यक्रम में सबसे पहले मुख्यमंत्री नकटा दियारा बाद, पानापुर और दो जिलों में पांच सामुदायिक घाट जमानिया और बलिया के कंसपुर पांच सामुदायिक पाटों की रविदास पाट पर आयोजित भव्य समारोह में प्रधानमंत्री बिहार में पटना जिले के दीपा, टर्मिनल और गुवाहाटी में पूर्वोत्तर कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी टेंट सिटी जाएंगे और वहां बोट रेस वर्चुअल माध्यम से जुड़ेंगे और गुवाहाटी में पांडु टर्मिनल में जहाज के लिए समुद्री कौशल विकास आदित्यनाथ और केंद्रीय जलपत्तन ट्रॉफी का अनावरण करेंगे।

क्रूज देश की सांस्कृतिक जड़ों और खोज का अनूठा अवसर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि 51- दिवसीय रिवर देश की सांस्कृतिक जड़ों में जुड़ने और इसको विविधता के सुंदर पहलुओं की खोज करने का एक अनूठा अवसर है। 

कार्यक्रम में करीब एक घंटे वर्चुअल जुड़ेंगे मोदी

मोदी शुक्रवार को रविदास घाट पर आयोजित कार्यक्रम में करीब एक घंटे तक बाद पीएम मोदी के हाथों लोकार्पण और शिलान्यास का कार्यक्रम संपन्न होगा। इसके अलावा बंगाल में हल्दिया मल्टी मॉडल रोड का शिलान्यास भी करेंगे। इस बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योगी आदित्यनाथ का संबोधन होगा। इसके

नदी परिवहन को बढ़ावा देने के लिए भारतीय अंतरदेशीय जलमार्ग प्राधिकरण (भाजपा) उत्तर प्रदेश से पश्चिम बंगाल के बीच 60 स्थानों पर जेटी का निर्माण करा रहा है। इसमें यूपी में 12 बेटी के निर्माण कार्य पूरा करा लिया गया है। सात स्थानों पर बेटी निर्माण कार्य चल रहा है।

वाराणसी। कोलकाता से वाराणसी और वाराणसी से असम के बोगीबी तक कुल सेवा शुरू होने के बाद अक्टूबर माह से परिवहन में एक और अध्याय जुड़ आएगा। अंतरा कूज की ओर से सेनिया के चीत कूज सेवा की शुरुआत होगी अंतराकूज के निदेशक राजसिंह के मुताबिक नदी परिवहन को बढ़ावा देने के लिए केंद्र व राज्य सरकार की ओर से नियादी सुविधाएं मुहैया कराई बढ़ी है। वाराणसी से बेगबील के बीच शुरू होने के अगले चरण में प्रयागराज से बलिया के बीच नियमित सेवा शुरू होगी। इससे न सिर्फ नदी पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा कमानी और व्यापारियों के लिए भी जल परिवहन फायदे का सौदा साबित होगा।

राज सिंह के मुताबिक प्रदेश सरकार से बुनियादी सुविधा (जेटी निर्माण कराने का आग्रह किया गया था। प्रदेश सरकार ने जा रही है। इससे निजी क्षेत्र की इसमें गंगा नदी में जेटी निर्माण शुरू कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *