Rewari News- लोहड़ी व मकर सक्रांति के त्यौहार करते हैं जीवन में नई ऊर्जा का संचार

Hamara Pariwar Rewari
Hamara Pariwar Rewari

Rewari News रेवाड़ी। हमारा परिवार संस्था के तत्वाधान में ध्यान साधना सत्संग का कार्यक्रम “आओ मिलकर लोहड़ी व मकर संक्रांति का त्यौहार मनायें” का आयोजन पंजाबी धर्मशाला पर किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि आरडब्ल्यूए ईडन गार्डन सोसायटी के प्रधान धर्मवीर यादव, रहे।

इस अवसर पर भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के जिला संयोजक प्रेम नाथ गेरा, पवित्रा प्रतिष्ठान के अध्यक्ष प्रो. अनिरुद्ध यादव व संस्था के संयोजक दिनेश कपूर सहित अन्य मौजूद रहे। मुख्यअतिथि ने कहा कि भारत कृषि प्रधान देश है। सर्दियों के दिनों में खेतों में सरसों, गेहूं इत्यादि की फसलें लहलहाने लगती हैं। उन दिनों जब हमारा हरियाणा पंजाब का ही एक हिस्सा रहा तब से यहां के किसान रात के समय पवित्र अग्नि जलाकर उसमें तिल, रेवड़ी, फुल्ले डालकर अग्नि देवता की पूजा करते हैं। भांगड़ा नृत्य करके खुशी मनाते हैं।

संस्था के प्रधान अरुण गुप्ता, बजाजा बाजार ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रधान दीपेश भार्गव, शिक्षाविद डॉ बलबीर अग्रवाल, एडवोकेट सुनील भार्गव व संस्था के सह संयोजक प्रवीण ठाकुर ने कहा कि मकर संक्रांति के अवसर पर सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है। मौसम में उष्णता आना शुरू होती है। ऐसे दिनों में शरीर को विशेष ऊर्जा की आवश्यकता होती है। इन दिनों देसी घी का चूरमा हर घर में बनाया व खाया जाता है।

महिला उप प्रधान निशा सीकरी,समाजसेवी आशा तनेजा व प्रीति कपूर ने कहा कि मकर सक्रांति के दिन दान देने का विशेष महत्व कहते हैं। इन दिनों कहते हैं स्वर्ग से देवता गाय व अन्य रूपों में आकर श्रद्धा से दिया गया दान स्वीकार कर सभी को आशीर्वाद प्रदान करते हैं।

संस्था के सहसंयोजक प्रवीण ठाकुर ने सभी को एरोबिक का आनंद दिलाया। नन्हे बच्चों शीटू, मोनिका, पूर्वांशी, ओजस्वी ने पंजाबी भंगड़ा प्रस्तुत कर सभी का मन मोह लिया। समाजसेवी मनोज गोयल, प्रोफेसर सीएल सोनी व लक्ष्मीनारायण अग्रवाल को उनकी उल्लेखनीय सेवाओं के लिए विशेष रूप से सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में लाफ्टर थेरेपी का सभी ने आनंद लिया। आए हुए अतिथियों को संस्था द्वारा स्मृति चिन्ह भेंट किए गए। कार्यक्रम में मुख्यत: समाजसेवी राजेंद्र गेरा, प्रवक्ता देवेंद्र कुमार, सोनिया कपूर, कपिल कपूर, राहुल कालड़ा, विनोद गोयल, सुरेंद्र शर्मा, सत्यपाल शास्त्री, जूही पिपलानी, संस्कृति भाटिया, सुनीता आर्य, उर्मिला, पुरुषोत्तम नंदवानी, सुदर्शन कुमार, रामरतन यादव, ललित सैनी, वासुदेव सचदेवा व साथियों ने सहयोग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *