नशे की समस्या जड़ से खत्म नहीं हो सकती, जड़ तो कम करने का प्रयास करें: हाई कोर्ट

चंडीगढ़ । नशे के मामले में युवाओं की भागीदारी बढ़ रही है। इससे अपराध और हिंसा के देश में युवाओं के बीच तेजी से मामले बढ़ रहे हैं। इस समस्या पर फैल रही नशे की लत पर पंजाब एंड प्रभावी ढंग से काबू पाने की जरूरत हरियाणा हाई कोर्ट ने गहरी चिंता जताई है। ऐसे में यदि नशे की समस्या को है। 

नशे की समस्या

हाई कोर्ट ने कहा कि युवा नशे जड़ से खत्म नहीं कर सकते तो फिर के आदी और तस्करी के दलदल में इसे कम करने का प्रयास ही किया घुस रहे हैं। देश में युवाओं की संख्या जाना चाहिए। जस्टिस नमित कुमार ने कई देशों के मुकाबले अधिक है। यह फैजल जुनैद नामक ड्रग्स तस्कर की आर्थिक तरक्की के लिए मददगार हो गिरफ्तारी से बचने के लिए दाखिल सकता है, लेकिन चिंता की बात यह अग्रिम जमानत याचिका को खारिज है कि नशे की लत में तेजी आने के करते हुए यह टिप्पणी की।

82 बोतलें जब्त हुई थीं..

मलेरकोटला पुलिस ने जुनैद के खिलाफ 8 नवंबर 2022 को केस दर्ज किया था। फैजल पर आरोप लगाया गया कि वह इमरान अनवर को ड्रग्स की बोतलें सप्लाई करता था। पंजाब पुलिस ने छापा मारकर 182 बोतलें कस्टडी में ली थी। जुनैद की ओर से कोर्ट में कहा गया कि सह आरोपी के बयानों पर जुनैद को झूठा फंसाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *